महंगी कारें ही नहीं हवाई जहाज भी खरीद रहे कनपुरिए


शहर से जब 2007 में एयर इंडिया ने रेगुलर फ्लाइट शुरू की थी उसके बाद चार्टर फ्लाइट और एयर एम्बुलेंस का सिलसिला बढ़ना शुरू हो गया था। जब तक रेगुलर फ्लाइट चली 12-14 चार्टर फ्लाइट और 3-4 एयर एम्बुलेंस माह में आती थीं। रेगुलर फ्लाइट बंद हुई और एयरपोर्ट पर रेगुलर वॉच बंद हुआ तो एयरपोर्ट का किराया बढ़ने के कारण चार्टर फ्लाइट कम होने लगीं, हालांकि एयर एम्बुलेंस बढ़ गईं। एयर एम्बुलेंस की संख्या और बढ़ सकती थी अगर सूचना मिलते ही एयरपोर्ट पर जहाज उतरने की अनुमति मिल जाती, कई बार इमरजेंसी के कारण एयर एम्बुलेंस यहां के बजाय लखनऊ में उतरी या फिर लोग अपना मरीज सड़क के रास्ते ले गए। रेगुलर फ्लाइट के बाद चार्टर प्लेन की संख्या यहां 13-15 और एयर एम्बुलेंस की संख्या इससे भी अधिक हो सकती है। एयरपोर्ट अथॉरिटी के स्थानीय प्रभारी वसीम अंसारी ने बताया कि दो ग्रुप ने जहाज पार्किग के लिए स्थान मांगा है जिस पर विचार किया जा रहा है।

%e0%a4%95%e0%a4%b0%e0%a5%8b%e0%a4%a1%e0%a4%bc%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%96%e0%a4%b0%e0%a5%80%e0%a4%a6%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%ae %e0%a4%ae%e0%a4%b9%e0%a4%82%e0%a4%97%e0%a5%80-%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%b9%e0%a5%80-%e0%a4%a8%e0%a4%b9%e0%a5%80%e0%a4%82-%e0%a4%b9%e0%a4%b5%e0%a4%be%e0%a4%88-%e0%a4%9c

Advertisements