पैसेंजर्स की जान के दुश्मन बने फर्जी गैंगमैन

फर्जी गैंगमैन ने ‘खोखला’ किया रेलवे ट्रैक

– जीएमसी यार्ड में आरपीएफ ने दबोचा फर्जी गैंग मैन, पूछताछ में सामने आया चौकाने वाला सच

– लोहा चोर गैंग फर्जी गैंगमैन बन रेलवे ट्रैक से चुरा रहे लोहा, पेंड्रोल क्लिप चोरी होने से हादसे होने की आशंका

pokharayan-28-12-2016-1482898936_storyimagekanpur। लाखों पैसेंजर्स से भरी हुई सैकड़ों ट्रेनों का लोड संभालने वाले रेलवे ट्रैक को फर्जी गैंगमैन की टीम ‘खोखला’ कर रही है। जी हां ये बात अजीब है लेकिन शत प्रतिशत सच है। कुछ लोगों से सेटिंग करके लोहा चोर गैंग के मेंबर्स फर्जी गैंगमैन बन चुके हैं। जो रेलवे ट्रैक को मजबूती देने के बजाय उसे कमजोर कर लाखों पैसेंजर्स की जान के दुश्मन बन गए हैं। मौत के सौदागर बने ये फर्जी गैंगमैन रेलवे को भी हर महीने लाखों की आर्थिक क्षति पहुंचा रहे हैं। सोर्सेज के मुताबिक पिछले दो महीनों के दौरान हुए ट्रेन हादसों की सबसे बड़ी वजह फर्जी गैंगमैन की कारस्तानी है। पेंड्रोल क्लिप व पटरी चोरी करने से ही ट्रेनें पटरी से उतर गईं। इस बात का खुलासा फ्राइडे को उस वक्त हुआ जब एक ऐसा ही गैंग आरपीएफ के हत्थे चढ़ गया.

मंधना में जाती सैकड़ों की जान

एक सप्ताह पूर्व ही रेलवे के लोहा चोर ने मंधना के पास देर रात रेलवे ट्रैक में लगी 40 से 50 पेंड्रोल क्लिप चोरी कर ली थी। इसके साथ ही वह लोहा काटने वाली आरी से रेलवे ट्रैक को भी काट कर ले जाना चाहते थे। वह तो गैंगमैन की पेट्रोलिंग टीम मौके पर पहुंच गई जो उन्होनें फर्जी गैंगमैन के मंसूबों पर पानी फेर दिया और एक बड़ा ट्रेन हादसा होने से बचा लिया.

रेलवे को नुकसान भी

railsazishआउटर क्षेत्रों में फर्जी गैंगमैन बन चोर रेलवे ट्रैक में लगे पेंड्रोल क्लिप व मालगाडि़यों में लगे पा‌र्ट्स चोरी कर रहे हैं। इससे जहां रेलवे को प्रति माह लाखों रुपये का चूना लग रहा है। वहीं चोर रेल यात्रियों की जान भी खतरे में डाल रहे है। वेडनसडे को जीएमसी यार्ड में आरपीएफ के हत्थे चढ़े गैंग के एक मेंबर से पूछताछ की गई तो पता चला की वह रेलवे ट्रैक में लगी पेंड्रोल क्लिप व गुड्स ट्रेनों के विभिन्न पा‌र्ट्स चोरी करता है। गौरतलब है कि रेलवे ट्रैक में लगी पेंड्रोल क्लिप का ट्रेन संचालन में बहुत बड़ा महत्व है। पेंड्रोल क्लिप रेलवे ट्रैक को जमीन में लगी स्लीपर से जोड़े रखने के लिए लगाए जाते हैं। इसे निकाल देने से ट्रेन पलटसकती है.

एनसीआरएमयू का फर्जी कार्ड

जीएमसी यार्ड स्थित आरपीएफ इंस्पेक्टर आनंद पांडेय ने बताया कि पकड़ा गया फर्जी गैंगमैन अंसार अहमद निवासी सुजातगंज रेलबाजार का रहने वाला है। तलाशी के दौरान उसके पास से रेलवे यूनियन एनसीआरएमयू का कार्ड भी मिला है। जो यूनियन पदाधिकारी अपने रेल कर्मचारी कार्यकर्ताओं को देते हैं।

स्थानीय कबाड़ी की दुकान में बिक्री

आरपीएफ इंस्पेक्टर की माने तो पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि वह रेलवे का लोहा चोरी कर शांतिनगर स्थित अब्बू कबाड़ी की दुकान में बेचता था। जानकारी मिलते ही जब आरपीएफ ने उसकी दुकान में छापेमारी की तो दुकान से लगभग 10 हजार रुपये का रेलवे का लोहा बरामद हुआ। आरपीएफ ने दुकान के मालिक के भाई उस्मान को भी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

आउटर में सक्रिय है गैंग

gangmanकड़े गए आरोपी व कबाड़ की दुकान में पकड़े गए युवक से पूछताछ की तो उसने बताया कि आधा दर्जन से अधिक युवक ऐसे हैं, जो कानपुर के आउटर एरिया दादानगर, जुही, पनकी में सक्रिय हैं। यह लोग रात व दिन में गैंगमैन जैसे कपड़े पहन सुरक्षा सिपाहियों की आंखों में धूल झोंक रेलवे ट्रैक में लगा लोहा चुराते हैं। इनमें से कुछ युवक उनकी दुकान में ही लोहा बेचते हैं और कुछ स्थानीय दुकानों में औने पौने दामों में बेच देते हैं।

क्या करता है गैंगमैन

रेलवे अधिकारियों की माने तो रेलवे का गैंगमैन रेलवे ट्रैकों में पेट्रोलिंग करता है। रेलवे ट्रैक की सुरक्षा उसके हाथों में ही होती है। एक गैंगमैन के अंडर में दो किमी। का रेलवे ट्रैक होता है। उनकी ड्यूटी 6 घंटे की होती है।

क्या- क्या होता गैंगमैन के पास:- हथौड़ी,- टार्च,- रिंच,,- पटाखा,- चमड़े का बैग,- कुछ छोटे मोटे औजार

मंधना में हुई घटना के बाद रेलवे ट्रैकों में सक्रियता बढ़ा दी गई है। इसके तहत ही जीएमसी यार्ड में गश्त के दौरान यह चोर पकड़ा गया था। आरोपी से पूछताछ कर गैंग के अन्य सदस्यों की पकड़ के लिए दबिश जारी है।

आनंद पांडेय आरपीएफ इंस्पेक्टर जीएमसी यार्ड

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s