यह नजारा देख सब रह गए दंग, गंगा-जमुनी तहजीब का दिखा अद्भुत नजारा!



हॉकी, लाठी, डंडे, फरसे, तलवार और स्टेनगन से लैस दिखे लोग, मुस्लिम भाईयों ने शोभायात्रा का जोरदार स्वागत किया।


कानपुर.
भगवान राम के जन्मदिन के अवसर पर कानपुर में गंगा-जमुनी तहजीब का अद्भुत नजारा देखने को मिला। क्या हिन्दू, क्या मुस्लिम सभी संप्रदायिक एकता की एक ही डोर में बंधे थे। गणेश शंकर विद्यार्थी के शहीद स्थल गोला चौराहा पर मुस्लिम भाईयों ने शोभायात्रा में शामिल भक्तों का जोरदार स्वागत किया। रियाज अंसारी ने भगवान राम की आरती उतारकर देश-प्रदेश में अमन चैन की दुआ मांगी। रावतपुर गांव में कांग्रेस के अल्पसंख्यक विभाग प्रदेश कोऑर्डिनेटर डॉक्टर निशार अहमद ने फूल बरसा कर रामभक्तों का स्वागत किया।
राम तो पुरूषोत्तम हैं और हिन्दुस्तान की शान
डॉॅक्टर निशार ने इस मौके पर कहा कि भगवान राम तो मर्यादा पुरूषोत्तम हैं, वे हिन्दस्तान की शान हैं। वे पिछले दस सालों से हिन्दू-मुस्लिम एकता और सौहार्द का संदेश दे रहे हैं। इस्लाम धर्म भी दूसरे के धर्म का सम्मान करने की सीख देता है। सौहार्द से ही मुल्क की तरक्की संभव है। विजय नगर स्थित मनकामेश्वर मंदिर में हिन्दू और मुस्लिम भाइयों ने जय श्रीराम के नारे लगाए और यहां गंगा-जमुनी की ऐसी बयार बही कि जिसने देखा वही बोला कि सबसे अच्छे कनपुरिए हमारे।
सपा नगर अध्यक्ष ने पूजी कन्याएं
सपा नगर अध्यक्ष फजल महमूद ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ रामनवमी मनाई। सपा के इतिहास में यह आयोजन पहली बार हुआ। फजल महमूद ने नौ कन्याओं के पैर धुले और पूजन कर उन्हें भोज कराया। महमूद ने कहा कि रामनवमी का पर्व पहली बार मनाया है। उन्हें ऐसा करते हुए बहुत अच्छा लगा। कन्या भोज तो बहुत सबाब का काम है। हम हिन्दुस्तान में रहते हैं तो इसकी संस्कृति हमारे खून में होगी ही। कानपुर शहर भाई-चारे और सौहार्द का प्रतीक है। हम आगे भी इस पंरपरा को जारी रखेंगे। इस मौके पर कन्याभोज के साथ ही उपहार भी बांटे गए।
kanpur
सबको भाए राम, लगे जय श्रीराम के नारे
यहां मसवानपुर और रावतपुर इलाके में बुधवार को राम नवमी के मौके पर यह शोभायात्रा निकाली गई। इस दौरान जबरदस्त भीड़ जुटी। रावतपुर गांव में मौजूद रामलला मंदिर परिसर से लाखों लोग एक जुलुस के रूप में निकले। शोभायात्रा में शामिल लोग हॉकी, लाठी, डंडे, फरसे, तलवार और स्टेनगन से लैस दिखे। केवल यही नहीं यात्रा के दौरान कई लोग स्टंट भी करते दिखाई दिए। इस दौरान किसी ने मुंह में पेट्रोल भरकर आग लगाकर स्टंट दिखाया तो किसी ने 40 फीट लंबे ध्वज को हवा में लहराकर करतब दिखाए।
kanpur
भगवान राम का मंदिर सबको भाया
कल्याणपुर में राम भक्तों का जोश देखने लायक था। शोभायात्रा में सभी भगवान की झाकियां थीं। रामनवमी के अवसर पर निकली इस यात्रा का जगह-जगह स्वागत किया गया। झांकियों में इस बार मुख्य आकर्षण का केंद्र राम मंदिर रहा। राम नवमी के मौके पर यह पहली बार हुआ है जब राम मंदिर का मॉडर तैयार कर उसकी झांकी निकाली गई हो। निकली शोभा यात्राओं में मुस्लिम समाज के लोगों ने भी बढ़चढ़कर हिस्सा लिया। भगवान श्रीराम की वेशभूषा धारण किए बच्चों को माला पहनाकर लोगों ने आशीर्वाद लिया।
kanpur
120 फीट का श्रीराम ध्वज, आकर्षण का केंद्र बना
रावतपुर गांव स्थित राम लला मंदिर से भगवान श्रीराम की यात्रा जोश और उत्साह के साथ निकाली गई। इस दौरान 120 फीट का श्रीराम ध्वज आकर्षण का केंद्र बना। वहीं बिठूर निषादराज महार्षि कश्यप की भगवान बजरंगबली के मंदिर से शोभायात्रा निकली गई। राम जी की सवारी में हिंदू-मुस्लिम एकता की एक अलग ही तस्वीर देखने को मिली। यहां मोहम्मद इम्तियाज के साथ कई मुस्लिमों ने शोभा यात्रा का स्वागत कर सभी का मुंह मीठा कराया और आशीर्वाद लिया।

 

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s