बूंदाबादी के बाद शीत लहर की चपेट में शहर, गिरा पारा

क्षेत्रीय चक्रवात के चलते शहर में हुई बूंदाबांदी के बाद से ठंड और बढ़ गई। पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी के चलते शहर शीतलहर की चपेट में आ चुका है। बर्फीली हवाओं ने शहरवासियों का जीना मुहाल कर रखा है। हवाओं के बीच कोहरा भी लोगों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। सोमवार…

कोहरे ने बिगाड़ी ट्रेनों की चाल एक दर्जन से ज्यादा रहीं निरस्त

कोहरे से ट्रेनों की लेटलतीफी मुसाफिरों की आफत बनती जा रही है। राजधानी एक्सप्रेस तक देरी से चल रही है। पानी, खाना और भोजन के लिए यात्री जूझ रहे हैं।

शिमला से भी ठंडा कानपुर

शीतलहर की चपेट में आए कानपुर ने मंगलवार को शिमला का भी रिकॉर्ड तोड़ दिया। सर्द हवाओं ने कंपकंपी छुड़ा दी तो दिनभर सूर्यदेव के दर्शन नहीं हो सके। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक अभी इसी तरह की सर्दी बनी रहेगी।

कोहरे की चादर में लिपटा कानपुर

उत्तराखंड की बर्फीली पहाड़ियों से होकर आने वाली उत्तर-पश्चिम की हवाओं ने मंगलवार रात को मौसम का मिजाज सर्द कर दिया। अधिकतम, न्यूनतम पारा भी लुढ़ककर सामान्य से नीचे आ गया। रात तकरीबन 2 बजे पूरा कानपुर में घना कोहरा छा गया। इससे वातावरण की नमी बढ़ी गई। नवम्बर के आखिरी दिन मौसम ने तेजी से करवट बदली है।