जुर्माना भर दौड़ीं डग्गामार बसें

कानपुर : संभागीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ) डग्गामार वाहनों के खिलाफ अभियान चला रहा है। चार दिन में डग्गामार बसें पकड़ी गईं। कार्रवाई भी हुई, लेकिन हैरत में डालने वाली। ये बसें अब सड़क पर फिर बेधड़क दौड़ रही हैं। 1 दस हजार रुपये जुर्माने के बदले इन्हें छोड़ दिया गया। अभियान के पहले दिन आरटीओ…

कम्प्यूटरीकृत वोटर लिस्ट बनाने वाला इकलौता जिला बना कानपुर

स्नातक एवं शिक्षक विधायक चुनाव के लिये कम्प्यूटरीकृत वोटर लिस्ट बनाने के मामले में महानगर कानपुर सूबे का इकलौता जिला बन गया है। जिला प्रशासन ने निजी प्रयासों से यह उपलब्धि हासिल की है। न तो भारत निर्वाचन आयोग और न ही उत्तरप्रदेश निर्वाचन कार्यालय ने इसके लिये कोई साफ्टवेयर दिया था, न ही कोई…

परेड चौराहा होगा कानपुर का हजरतगंज

कानपुर का परेड चौराहा अब हजरतंग की तरह हो जाएगा। पहले यहां नवीन मार्केट के सौंदर्यीकरण के साथ ही मल्टीस्टोरी पार्किग का काम शुरू किया गया था, अब बीएम श्रीवास्तव मार्केट की शक्ल भी बदलने वाली है। नवीन मार्केट और पार्किग पर केडीए 50 करोड़ रुपए खर्च कर रहा है तो नगर निगम भी बीएम श्रीवास्तव मार्केट को एक ही शक्ल में बदलने के लिए लगभग 15 करोड़ खर्च करेगा।

हैरान न हों, यह अपना कानपुर ही है।

कानपुर:-दस माह की कोशिश के बाद आखिरकार मोदी सरकार ने कानपुर को मंगलवार को स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में शामिल कर लिया है। ऐसे में अब यहां की तस्वीर बदलने का रास्ता खुल गया है। कानपुर के 2311.97 करोड़ रुपए के स्मार्ट सिटी के प्रोजेक्ट में आधी धनराशि केंद्र जबकि आधी राज्य सरकार को देनी होगी। मंज़ूर हुए प्रोजेक्ट में ग्वालटोली का इलाक़ा यानी वार्ड 4,13,15,59 और 76 में आने वाले मोहल्लों का कायाकल्प होगा। साथ ही कम्पनी बाग़ से नाना राव पार्क तक वीआईपी रोड पर गंगा किनारे इलाकों में कई तरह की सुविधाओं की झड़ी लग जाएगी।

स्मार्ट सिटीज की तीसरी लिस्ट में कानपुर को मिली जगह

अपना शहर कानपुर के भी अब स्मार्ट बनने का रास्ता साफ हो गया है। बुधवार को केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने स्मार्ट सिटीज की तीसरी लिस्ट का ऐलान किया, इसमें कानपुर भी शामिल है। लिस्ट कुल 27 नए शहरों नाम है। इस बार स्मार्ट सिटीज की दौड़ में 63 शहर शामिल थे। 12 राज्यों के 27 शहरों को स्मार्ट सिटीज की लिस्ट में जगह मिली है। यूपी के 3 शहरों को इस लिस्ट में जगह मिली है।